एक छोटा बच्चा बहुत देर से घर के बाहर खड़ा दरवाजे की घंटी बजाने की कॉसिश कर रहा था.तो एक बूढ़ा आदमी आया और कहा:
बूढ़ा आदमी: क्या कर रहे हो बेटा?
बच्चा: अंकल, यह घंटी बजाना चाहता हूँ.
बूढ़ा आदमी (घंटी बजi के): यह लो बज गया, अब क्या है?
बच्चा: अब भागो!